शरीर की इम्युनिटी का रखें ध्यान, किसी भी खतरे से निपटने में मिलेगी मदद : डॉ. आरके शर्मा

शरीर की इ्म्यूनिटी कैसे बढ़ाएं

कोरोना संकट काल में संक्रमण से बचने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल के पालन के साथ शरीर की इम्युनिटी (प्रतिरोधक शक्ति ) बढ़ाने पर विशेषज्ञ खासा जोर दे रहे हैं। उनका कहना है कि इम्युनिटी मजबूत रखेंगे तो शरीर भी तंदरूस्त रहेगा।

कोरोना काल में खुद के साथ घर-परिवार के हर सदस्य को सुरक्षित बनाने का इस वक्त सबसे बड़ा मंत्र है कि शरीर की इम्युनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखा जाए। इम्युनिटी ही एक ऐसा हथियार है, जो किसी भी खतरे के प्रति ढाल बनकर सामने खड़ा हो जाता है और कोरोना को नजदीक तक पहुचने ही नहीं देता।

वाराणसी के कबीरचौरा स्थित मंडलीय शिवप्रसाद गुप्त अस्पताल के वरिष्ठ परामर्शदाता एवं चेस्ट फिजीशियन डॉ. आरके शर्मा ने बुधवार को बताया कि शरीर की इम्युनिटी बढ़ाना कोई मुश्किल और बड़ा काम नहीं है। इम्युनिटी रोगों से लड़ने के लिए हमारे अंदर मजबूती बनाये रखती है। खाने से लेकर खेलने, कसरत करने तक को शामिल कर इसे बढ़ा सकते हैं।

उन्होंने बताया कि कोरोना काल में चाय से दूरी बनाकर रखें। इस दौरान जंक फूड भी खाने से बचना होगा। खास बात ये है कि खाना खाते समय टीवी देखने से बचे। डा. शर्मा ने बताया कि फाइबर यानी रेशेयुक्त भोजन, फल, सब्जियां आदि खाने पर ध्यान देना चाहिए और फैट यानी वसा वाले भोज्य पदार्थ खाना बंद करना होगा।

उन्होंने बताया कि बेशक गर्मी के दिन हैं, लेकिन कोल्ड ड्रिंक और ठंढी चीजों को खाने से बचना होगा। फलों का जूस पीने के बजाय फल काटकर खाने पर ध्यान दें, जिससे फाइबर ज्यादा मिलेगा। क्रीम को छोड़कर वेज सैंडविच और पनीर सैंडविच खा सकते हैं। शाम को ड्राईफ्रूट्स लिए जा सकते हैं जिससे स्वाद भी आयेगा और पेट भी भरेगा।

बच्चों-किशोरों को आयरन, विटामिन-डी और कैल्शियम की जरूरत ज्यादा होती है। इसके लिए दूध, दही, पनीर इत्यादि भी खाने में शामिल करें। अंकुरित अनाज यानी स्प्राउट्स ले सकते हैं।

स्प्राउट्स को सैंडविच के साथ या पराठे में भरकर भी खा सकते हैं। इसके अलावा स्टीम फूड अर्थात बिना घी-तेल की बनी चीजें बच्चों और किशोरों के लिए बेहतर हैं। इम्युनिटी के लिए आपको आयरन, कैल्शियम और विटामिन सी की जरूरत होती है। प्रोटीन, फल और सब्जियां खाएं ताकि आपकी हड्डियां मजबूत हों और पोषण की कमी न हो।

व्यायाम के साथ हरी पत्तेदार सब्जियां भी खाये

कोरोना काल में ‘मेरी काशी—मेरा कर्तव्य’ अभियान चलाकर वाट्सग्रुप के जरिये मरीजों को डाक्टरों के समूह के साथ निशुल्क देखने वाले वरिष्ठ जनरल फिजिशियन और कैंसर रोग विशेषज्ञ डा. शशि भूषण उपाध्याय ने बताया कि कोरोना काल में शरीर के प्रतिरोधक शक्ति को बनाये रखना ही सबसे बड़ा धन है।

उन्होंने बताया कि इम्युनिटी बनाये रखने के लिए बाहर का खाना बिलकुल न खाएं। अपने खाने में ज्वार, बाजरा जैसे अनाज को शामिल करें। सुबह उठकर गुनगुना पानी लें। एक बार में ज्यादा खाना लेने और छोड़ देने के बजाय नियमित अंतराल पर थोड़ा–थोड़ा खाएं।

प्रतिदिन एक्सरसाइज करें। नाश्ते में नट्स, बीज और दलिया शामिल करें। चाय बिलकुल न पिएं। इससे एसिडिटी बढ़ सकती है। डा. उपाध्याय ने बताया कि रात का भोजन आठ बजे तक कर लें। सोते वक्त हल्दी डालकर दूध लें।

दिनचर्या लगातार नियमित रखे

डा. उपाध्याय ने बताया कि कोरोना काल में नियमित दिनचर्या बेहद जरूरी है। अच्छी इम्युनिटी के लिए खान-पान में पर्याप्त मैक्रो-न्यूट्रिएंट्स और सूक्ष्म पोषक तत्वों की जरूरत होती है। दाल प्रोटीन का मुख्य स्रोत होता है। हरी पत्तेदार सब्जियां कोलेस्ट्रॉल कम करती हैं। इनमें विटामिन बी भी होता है, जो शरीर की ऊर्जा को बनाए रखता है।

प्रोटीन से जल्दी-जल्दी भूख नहीं लगती। बेहतर इम्युनिटी के लिए तय दिनचर्या होनी चाहिए। पढ़ने, खाने, खेलने व सोने का समय तय करें। थोड़ा व्यायाम और अच्छी नींद खुश रहने के लिए आवश्यक है।