केरल समेत जिन राज्यों में हो रहा है कोरोना विस्फोट, वहां मोदी सरकार करेगी समीक्षा

कोरोना संक्रमण दर

नई दिल्ली। बीते कुछ समय से देश में कोरोना के नए मामलो में कमी आई है। लेकिन केरल समेत कुछ राज्यों में मामले अचानक बढ़ गए हैं। केरल में लगातार 20 हजार से ज्यादा नए केस आ रहे हैं। देशभर में आ रहे नए केस के मामले में केरल का हिस्सा 50 फीसदी है।

कोरोना की बढ़ती भयावहता को देखते हुए केंद्र सरकार एक बार फिर से हरकत में आ गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण शनिवार को केरल सहित 10 राज्यों की स्थिति की समीक्षा करेंगे। राजेश भूषण केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, असम, मिजोरम, मेघालय और मणिपुर में कोरोना की स्थिति की समीक्षा करेंगे।

बता दें कि केंद्र सरकार ने पहले ही केरल में छह सदस्यीय मल्टी डिसीप्लीनरी टीम भेजी है, जो वहां कोविड -19 महामारी की स्थिति की निगरानी करेगी और राज्य में संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के उपाय सुझाएगी।

ष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के निदेशक डॉ सुजीत सिंह के नेतृत्व में विशेषज्ञों की टीम शुक्रवार रात तिरुवनंतपुरम पहुंची। टीम के सदस्य ने कहा कि पॉजिटिविटी रेट में वृद्धि बड़ी चिंता है। हर जगह मामले घट रहे हैं और केरल में बढ़ना जारी है।

उन्होंने कहा कि यह एक व्यापक स्थिति है, देखते हैं कि चीजें कैसे सुधरती हैं। केरल में शुक्रवार को 20,000 से अधिक नए संक्रमणों की पहचान की गई। राज्य की टेस्ट पॉजिटिविटी रेट 13.61 फीसदी तक पहुंच चुकी है।