छिपकली से जुड़े अनछुए शकुन-अपशकुन, जानें घर में छिपकली होने का संकेत

छिपकली का दिखना
छिपकली का दिखना शुभ या अशुभ

संतोष सुमन। छिपकली को माँ लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। जिस घर में छिपकली होती है वहां पर हमेशा धन की बरकत बनी रहती है। अगर आपके घर में छिपकली दिखाई देती है तो क्या करना चाहिए। छिपकली का जमीन पर गिरना, दीवार पर रेंगना, छिपकली का बोलना इत्यादि का अलग-अलग शुभ अशुभ फल होता है। आइए जानते हैं छिपकली से जुड़े कुछ शुभ अशुभ संकेतों को –

शकुन शास्त्र के अनुसार, छिपकली का किसी विशेष समय पर दिखने का भी अलग-अलग मतलब होता है। यदि घर में दीवाली की रात छिपकली दिखाई दे तो यह एक शुभ लक्षण होता है। इसका मतलब है कि आपको पूरे साल किसी भी प्रकार धन की कमी नहीं होने वाली है।

छिपकली बोलती भी है। कई बार छिपकली की आवाज सुनना संभव नहीं होता है। फिर भी अगर भोजन करने वक्त छिपकली बोले तो यह एक शुभ संकेत है। इसका मतलब है कि जल्द ही कोई शुभ समाचार या शुभ फल की प्राप्ति होने वाली है। सुबह-सुबह छिपकली का दिखना [1] भी शुभ होता है।

छिपकली यदि आपके घर में मौजूद है और वह आपस में लड़ रहे हैं तो यह शुभ नहीं है। शकुन शास्त्र के अनुसार, छिपकली का आपस में लड़ना घर में कलह का माहौल बनने का संकेत होता है। आने वाले समय में घर के सदस्यों के बीच मतभेद और आपसी विवाद की स्थिति बन सकती है।

यदि घर में छिपकली दिख जाए तो उसे भगाएं नहीं। छिपकली से हमें किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होता है। यदि नए घर में छिपकली का दर्शन होता है तो इसका मतलब होता है कि घर का गृहस्वामी बीमार पड़ने वाला है। इसलिए कोशिश करें कि जब भी नए घर में प्रवेश करें तो सुनिश्चित करें कि छिपकली के दर्शन न हो।

अस्वीकरण – यह जानकारी सामान्य जन को ध्यान में रखकर दी गई है। इसकी प्रमाणिका पर तहकीकात इंडिया दावा नहीं करता। नई खबरों के लिए तहकीकात इंडिया पर बने रहें।