सबसे स्वच्छ शहर इंदौर को मिला एक और खिताब, पहला वाटर प्लस शहर बना

वॉटर प्लस शहर इंदौर

मध्यप्रदेश के इंदौर शहर दिन प्रतिदिन नए कीर्तिमान अपने नाम कर रहा है। इंदौर ने स्वच्छता विजय यात्रा में एक और उपलब्धि हासिल की है। भारत सरकार द्वारा जारी परिणामों के अनुसार, इंदौर को देश का पहला वॉटर प्लस शहर घोषित किया गया है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने इस उपलब्धि के लिए इंदौर नगर निगम के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ ही नागरिकों को बधाई दी है।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि सबसे स्वच्छ शहर का दर्जा प्राप्त करने के बाद अब इंदौर देश का पहला वॉटर प्लस सिटी बन गया है। यह इतिहास रचने के लिए सभी इंदौरवासियों को बधाई। आप पर, आपकी कार्यशैली और आपके अनुशासन पर पूरे प्रदेश को गर्व है।

वॉटर प्लस की चयन प्रक्रिया में देश के 84 शहरों ने आवेदन किए थे, जिसमें से सिर्फ 33 शहरों को जमीनी सत्यापन के लिए उचित पाया गया था।

बता दें कि विभिन्न स्वच्छता मानकों के आधार पर देश के शहरों का परीक्षण किया जाता है। इसमें ओडीएफ प्लस, ओडीएफ बल प्लस और वॉटर प्लस की श्रेणियां शामिल हैं। वॉटर प्लस का प्रमाण-पत्र ओडीएफ डबल प्लस के सभी मानकों को पूरा करने वाले शहरों को दिया जाता है।

इसके साथ-साथ आवासीय और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों से निकलने वाले अवशिष्ठ मल-जल को उपचार के बाद ही पयार्वरण में छोड़ा जाता हो। ट्रीटेड वेस्ट-वॉटर का पुन: उपयोग भी सुनिश्चित किया जाता हो।