अमेरिकी ओपन: जोकोविच ने कहा, फाइनल मुकाबला करियर के आखिरी मैच की तरह खेलूंगा

अमेरिकी ओपन के फाइनल में पहुंचने के बाद, दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने शनिवार को कहा कि वह डेनियल मेदवेदेव के खिलाफ फाइनल मुकाबला अपने करियर के आखिरी मैच की तरह खेलेंगे।

जोकोविच रविवार को अमेरिकी फाइनल में मेदवेदेव के खिलाफ कोर्ट पर उतरेंगे और यदि वह यह मुकाबला जीत जाते हैं तो वह 1969 में रॉड लेवर के बाद एक कैलेंडर वर्ष में सभी ग्रैंड स्लैम जीतने वाले पहले पुरुष टेनिस खिलाड़ी बनेंगे।

जोकोविच ने यूएस ओपन की आधिकारिक वेबसाइट से बीतचीत में कहा,”मुझे पता है कि लोग मुझे इसके बारे में बात करते हुए सुनना चाहेंगे, लेकिन बात करने के लिए बहुत कुछ नहीं है। केवल एक मैच बाकी है। मैं इस मैच में अपना सबकुछ डाल दूंगा। मैं अगले मैच को ऐसे मानूंगा जैसे यह मेरे करियर का आखिरी मैच हो।’

सेमीफाइनल मैच को लेकर उन्होंने कहा,”कोर्ट पर माहौल अद्भुत था। यह टूर्नामेंट का अब तक का सबसे अच्छा माहौल था। ये वे क्षण हैं जिनके लिए हम जीते हैं और ये अनूठे अवसर हैं जिनका हम हर दिन सपना देखते हैं। यह जब आप इस खूबसूरत स्टेडियम में इस माहौल के साथ खेल रहे होते हैं तो आपको फायदा होता है।”

बता दें कि जोकोविच ने शनिवार को पांच सेट के रोमांचक मुकाबले में अलेक्जेंडर ज्वेरेव को हराकर मौजूदा यूएस ओपन के फाइनल में प्रवेश किया। दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी जोकोविच ने यहां आर्थर ऐश स्टेडियम में सेमीफाइनल में ज्वेरेव को 4-6, 6-2, 6-4, 4-6, 6-2 से हराया। यूएस ओपन के फाइनल में अब जोकोविच का सामना डेनियल मेदवेदेव से होगा।