पुलवामा हमला – सीआरपीएफ ने कहा- न कभी माफ करेंगे और न ही भूलेंगे

पुलवामा हमला

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा हमले के दो साल होने पर सीआरपीएफ ने कहा कि पुलवामा हमले में राष्ट्र के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले हमारे भाइयों को सलाम। ट्विट में लिखा है कि न माफ करेंगे, न भूलेंगे। हम अपने वीर जवानों के परिवारों के साथ खड़े हैं।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में दो साल पहले हुए आतंकी हमले में अपने 40 सैनिकों खो दिया था। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने रविवार को कहा कि देश उस हमले के जिम्मेदारों को माफ नहीं करेगा और जवानों के सर्वोच्च बलिदान को नहीं भूलेगा।

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविरों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए थे।

बता दें कि लगभग 3.25 लाख जवानों के साथ सीआरपीएफ दुनिया का सबसे बड़ा अर्धसैनिक बल है। इसमें से 65 बटालियन या लगभग 70,000 जवान कश्मीर घाटी में आतंकवाद-रोधी अभियान चलाने और कानून-व्यवस्था के कर्तव्यों के पालन के लिए तैनात किए गए है।