बीजेपी का उत्तर प्रदेश मिशन 2022 – इन 10 प्वाइंट्स पर होगा फोकस

योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में योगी कैबिनेट के अंदर बदलाव की खबरों के बीच भाजपा नेतृत्व ने यूपी के लिए मिशन 2022 की रूपरेखा तैयार कर ली है। इस बारे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी पूरी तरह से अवगत करा दिया गया है।

भाजपा संगठन और राज्य सरकार मिलकर विभिन्न मोर्चों पर मिशन मोड में काम करेगा। इसमें सामाजिक, राजनीतिक, धार्मिक मोर्चों पर साधने के साथ जनता की नाराजगी को दूर करना और 2022 में सत्ता को बरकरार रखने की कार्ययोजना शामिल है।

इससे पहले पंचायत चुनाव के नतीजों ने भाजपा को समय रहते सतर्क कर दिया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उत्तर प्रदेश को लेकर चिंता व्यक्त की गई थी। इसके बाद भाजपा और संघ नेतृत्व सक्रिय हुआ। इसके बाद विभिन्न स्तरों से भी फ़ीडबैक लिया गया।

इसके बाद केंद्रीय स्तर से लेकर राज्य स्तर तक कई बैठकें हुई और केंद्रीय नेताओं का यूपी दौरा भी हुआ। राज्य के नेताओं को भी दिल्ली बुलाया गया। इस बीच इस बात का कयास लगाया गया कि भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं है और जल्द ही योगी कैबिनेट में विस्तार और संगठन में बदलाव हो सकता है। हालांकि अब बीजेपी ने साफ कर दिया है कि यूपी में योगी के ही नेतृत्व में भाजपा आगे बढ़ेगी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भविष्य में बीजेपी जिन मुद्दों पर मिशन मोड में काम करेगी वो मुद्दे हैं – नेतृत्व, संगठन, सुशासन, नियोजन, सामाजिक समीकरण, धार्मिक ध्रुवीकरण, गठबंधन, गरीब कल्याण योजना, राज्य सरकार के पिछले पांच साल के प्रमुख प्रोजेक्ट, केंद्र सरकार की प्रमुख योजनाएं।