कोरोना के बीच एक और कहर, शर्ब टाइफ्स से गई कईयों की जान

शर्ब टाइफ्स

उत्तर प्रदेश में कोरोना के बाद एक और कहर सामने आ गया है। इन दिनों डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया का आतंक राज्य में फैला हुआ है। बारिश का मौसम आते ही इन मामलों में तेजी देखी जा रही है। घातक बीमारियां पैर पसार रही है। हाल ही में फिरोजाबाद में डेंगू से कई बच्चों की मौत हो गई थी।

माना जा रहा है कि डेंगू से मरने वाले की संख्या 50 से ज्यादा हो सकती है। फिरोजाबाद में इतनी संख्या में मौतें होने के बाद खुद सीएम योगी ने फिरोजाबाद का दौरा किया और मृतक बच्चों के परिवार वालों से मिले थे। वहीं मथुरा में भी इससे अबतक 12 लोग जान गंवा चुके हैं।

स्क्रब टाइफ्स बुखार से लोग संक्रमित

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच उत्तर प्रदेश में रहस्यमयी बुखार ने लोगों की चिंता और बढ़ा दी है। अब तक राज्य में 60 से ज्यादा लोगों का जान जा चुकी है। बुखार की पहचान स्क्रब टाइफ्स ( Scrub Typhus) के रूप में हुई है, जिसके मामले मथुरा के अलावा आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा और कासगंज में सामने आ चुके हैं।

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) के अनुसार, स्क्रब टाइफ्स बुखार को शर्ब टाइफ्स भी कहते हैं, जो ओरिएंटिया त्सुत्सुगामुशी नाम के बैक्टीरिया से फैलता है। इससे संक्रमित चिगर्स के काटने से यह बैक्टीरिया फैलता है।

स्क्रब टाइफ्स में लक्षण चिगर्स के काटने के 10 दिनों के अंदर संक्रमण फैलता है और संक्रमित व्यक्ति में बुखार, नाक बहना, सिर दर्द, शरीर व मांसपेशियों में दर्द, चिड़चिड़ा होना, शरीर पर चकते पड़ना आदि लक्षण दिखते हैं