2DG Medicine: शरीर में जाते ही करने लगेगी कोरोना पर वार, आज होगी लॉन्च

डीआरडीओ की कोरोना दवा

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच राहत भरी खबर आयी है। यह खबर देश की रक्षा के लिए तरह-तरह की खोज के लिए समर्पित संगठन डीआरडीओ ने दी है। इस संगठन की ओर से खोजी गयी एक नयी दवा से कोरोना मरीजों का बहुत तेजी से इलाज हो सकेगा। नई दवा ‘2-डीजी’ के नाम से आज ही लांच होने जा रही है। रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडी) की ओर से तैयार दवा को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन लांच करेंगे।

ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीजीआई) के मुताबिक इमरजेंसी यूज के लिए इस दवा को डीआरडीओ के इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड अलायड साइंसेस (आइएनएमएस) ने हैदराबाद सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्युलर बायोलॉजी (सीसीएमबी) के साथ मिलकर तैयार किया है। इसके सभी क्लीनिकल परीक्षण सफल रहे हैं।

नई दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-डीजी) कोरोना के इलाज में बड़ा परिवर्तन ला सकती है। खास बात यह है कि लांच होने के साथ ही इस दवा की पहली खेप भी सुलभ हो जायेगी। डीआरडीओ के अधिकारियों के मुताबिक, भविष्य में दवा के उत्पादन में और अधिक तेजी लायी जायेगी।

हाइड्रॉक्‍सीक्‍लोरोक्विन, रेमडिसिविर, आइवरमेक्टिन जैसी तमाम दवाओं के कोविड-19 पर असर को लेकर पिछले साल से ही रिसर्च चलती रही, मगर 2DG वह पहली दवा है जिसे ऐंटी-कोविड ड्रग कहा जा रहा है।

किसने किया तैयार

2डीजी को डिफेंस रिसर्च ऐंड डिवेलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) के इंस्टिट्यूट ऑफ न्‍यूक्लियर मेडिसिन ऐंड अलाइड साइंसेज (INMAS) ने विकसित किया है। पिछले साल जब भारत में कोविड-19 की पहली लहर की शुरुआत हुई थी, तभी से INMAS के वैज्ञानिकों ने इसपर काम शुरू कर दिया था। मई 2020 में ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने इस दवा के कोविड मरीजों पर फेज 2 ट्रायल की मंजूरी दी थी।